Kisan Protest: गाजीपुर बॉर्डर पर किसान और बीजेपी कार्यकर्ताओं के बीच झड़प

0

Kisan Protest: गाजीपुर बॉर्डर (Ghazipur Border) पर बाजेपी (BJP) के कार्यक्रर्ता पार्टी और संगठन से जुड़ें नेता का स्वागत करने के लिए पहुंचे थे। मिली जानकारी के अनुसार तभी हंगामा शुरु हो गया। प्रदर्शनकारी किसानों ने हंगामा और पथराव शुरु कर दिया। बीजेपी नेताओं को काले झंडे भी दिखाए। हंगामे को बढ़ता देख मौके पर मौजूद पुलिस ने वहां से बीजेपी के नेताओं व कार्यकर्ताओं की गाड़ियों को निकलवाया।

ये भी पढ़ें- youngest skydiver in india : भारत की सबसे कम उम्र की स्काईडायवर बन अनामिका शर्मा ने रचा इतिहास

Kisan Protest: एसएसपी दफ्तर के बाहर  बीजेपी कार्यकर्ताओं ने किया हंगामा

आपको बता दें कि गाजीपुर बॉर्डर समेत दिल्ली के अलग – अलग जगहों पर किसान बीते सात महीने से किसान बिल के खिलाफ आंदोलन कर रहें हैं। इसी बीच आज बीजेपी के कार्यकर्ताओं के वहा पहुंचने से हंगामा शुरु हो गया।

ये भी पढ़ें- SBI Recruitment 2021 : SBI में निकली है कई पदों भर्ती, जल्द करें आवदेन

घटना के बाद बड़ी संख्या में बीजेपी के कार्यकर्ता एसएसपी ऑफिस पहुंच गये और दोषियों पर कड़ी कार्यवाही की मांग करने लगे। उनका कहना है कि किसानों ने बीजेपी कार्यकर्ताओं की गाड़ियों में तोड़फोड़ भी की है।

Kisan Protest: बीजेपाी नेताओं दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही की  मांग की

गाजियाबाद बीजेपी महानगर उपाध्यक्ष रंजीता सिंह ने बताया कि वो और उनके साथी कार्यकर्ता बीजेपी नेता का स्वागत करने के लिए गाजीपुर बार्डर पहुंचे थे। हम कोविड नियमों का पालन करते हुए शालीनता से खड़े थे । तभी राकेश टिकैत के गुंडे तलवार – भाला से हमारी गाड़ियों में तोड़फेड़ शुरु कर दी। काफी गाड़ियों को नुकसान पहुंचाया।

रंजीता सिंह ने कहा कि हमला वाल्मिकि समाज पर हुआ है। हम चाहते है कि दोषियों पर कड़ी कार्यवाही हो। ये किसान नहीं थे, बल्कि किसान के भेष में राकेश टिकैत के गुंडे थे। उन्होंने आगे कहा कि किसान इस तरह अपनी फसल को छोड़कर सड़कों पर नही बैठते हैं।

खबरों के साथ बने रहने के लिए प्रताप किरण को फेसबुक पर फॉलों करने के लिए यहां क्लिक करें।

 

Leave A Reply

Your email address will not be published.