Kick Boxing : दिल्ली ओलंपिक में सुधीर सक्सेना ने जीता गोल्ड मेडल

दिल्ली के सुधीर सक्सेना ने दिल्ली ओलिंपिक एसोसिएशन द्वारा आयोजित दिल्ली ओलंपिक गेम्स किक बॉक्सिंग में दिल्ली के लिए स्वर्ण पदक हासिल करने में सफलता हासिल की।

0
Kick Boxing : अंतरराष्ट्रीय किक बॉक्सिंग (Kick Boxing) प्रतियोगिता में भारत का प्रतिनिधित्व कर चुके दिल्ली के सुधीर सक्सेना (Sudheer suxena) ने दिल्ली ओलिंपिक एसोसिएशन (Delhi Olympic Association) द्वारा आयोजित दिल्ली ओलंपिक गेम्स किक बॉक्सिंग (Kick Boxing) में दिल्ली के लिए स्वर्ण पदक (gold medal) हासिल करने में सफलता हासिल की।

इस सफलता पर दिल्ली किक बॉक्सिंग के जनरल सेक्रेटरी श्री हर्ष दहिया ने सुधीर को बधाई दी।

यह प्रतियोगिता दिल्ली के फिजिकल सेंटर पंजाबी कॉलोनी नरेला स्टेडियम में 20 से 21 मार्च 2021 तक चली। एक मध्यमवर्गीय परिवार में जन्मे, आर्थिक तंगी और प्रायोजकों के अभाव के बावजूद अपनी कड़ी मेहनत और सच्ची लगन से विभिन्न देशों के साथ लोहा लेते हुए भारत के लिए 1 स्वर्ण, 2 रजत और 2 कांस्य पदक जीतना अपने आप में एक गौरवपूर्ण बात है।

ये भी पढ़ें- Lucknow: चालान काटे जाने पर भड़की एक युवती, वीडियो वायरल

सरकार और प्रायोजकों की सहायता के बिना खेल की दुनिया में इस तरह का मुकाम हासिल करना देश के लिए गौरव की बात है। खेल के प्रति इतना जुनून और देश का मान बढ़ाने का इतना समर्पण उदाहरण के तौर पर ही देखने और सुनने को मिलता है।

अंतरराष्ट्रीय खेल किक बॉक्सिंग जिसमें भारत की पहुंच आज तक दुर्लभ देखी गई है, ऐसी अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिता में विश्व चैम्पियनशिप और एशियन चैंपियनशिप के सदस्य सुधीर सक्सेना ने भारत के लिए विश्व स्तर पर गौरवपूर्ण भूमिका निभाई है।

12 राष्ट्रीय पदकों और चालीस से अधिक राज्य स्तर के विभिन्न पदकों के विजेता रहे सुधीर आज भी खेल के प्रति लगनशील और देश के लिए समर्पण भाव के साथ संघर्षरत हैं।

विभिन्न देशों में भारत का परचम लहराते आए सुधीर के बारे में भारत के किक बॉक्सिंग के कोच नित्यानंद प्रधान जी का कहना है कि सुधीर के हाथों में बचपन से ही भरपूर और गजब की ताकत बरकरार है और उनके हाथों के पंचों का कोई जवाब नहीं।

ऐसे विलक्षण प्रतिभा के धनी सुधीर सक्सेना को भारत सरकार तथा प्रायोजकों की ओर से स्नेह समर्थन और हौसला-अफजाई मिले तो इसमें कोई संदेह नहीं कि आगामी अंतरराष्ट्रीय किक बॉक्सिंग खेल प्रतियोगिता में विश्व स्तर पर भारत को परचम लहराने से कोई नहीं रोक सकता।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: