IPL: CSK को टूर्नामेंट से बाहर होने का खतरा, हासिल करनी होगी MI के खिलाफ जीत

CSK के कैप्टन महेंद्र सिंह धोनी ने राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ मिली हार के बाद स्वीकार किया कि सत्र उनके लिए शायद खत्म हो चुका है, लेकिन टीम अगर अपने बचे हुए चारों मैच जीत ले तो ही वह 14 अंक हासिल कर सकती है जिससे उन्हें प्लेऑफ में जगह बनाने का मौका मिल सकता है।

0

शारजाह: चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) का IPL के इस सत्र में बाकी टीमों के साथ मुकाबला बद से बदतर होता जा रहा है ऐसे में शुक्रवार को होने वाले मुकाबले में चैंपियन मुंबई इंडियंस (MI) के खिलाफ उम्मीद है कि वह अपने कुछ युवा खिलाड़ियों को आजमाए।

CSK के कैप्टन महेंद्र सिंह धोनी ने राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ मिली हार के बाद स्वीकार किया कि सत्र उनके लिए शायद खत्म हो चुका है, लेकिन टीम अगर अपने बचे हुए चारों मैच जीत ले तो ही वह 14 अंक हासिल कर सकती है जिससे उन्हें प्लेऑफ में जगह बनाने का मौका मिल सकता है।

 CSK को लगता रहा झटके पर झटका 

मुख्य कोच स्टीफन फ्लेमिंग ने कहा कि उनकी उम्रदराज खिलाडि़यों से भरी टीम पिछले दो सत्र में अच्छा करने के बाद अब उनकी परफॉर्मेंस खराब होती जा रही है। जिसने 2018 में खिताब जीता और फिर अगले साल फाइनल में प्रवेश किया। टूर्नामेंट के शुरुआती मैच में मुंबई इंडियंस पर जीत हासिल करने के बाद उसके लिए चीजें खराब होती रही। टीम को राजस्थान रॉयल्स के हाथों करार शिकस्त झेलनी पड़ी और अब ड्वेन ब्रावो भी उसके साथ नहीं होंगे जो चोटिल होने के कारण टूर्नामेंट से बाहर हो गए।

डुप्लेसिस को छोड़ सभी के प्रदर्शन खराब

राजस्थान के खिलाफ CSK के बल्लेबाज जूझते दिखे और अब देखना होगा कि टीम नए खिलाडि़यों को मौका देगी या नहीं, क्योंकि सोमवार को मिली हार के बाद धोनी ने इसका संकेत दिया था। फॉफ डुप्लेसिस को छोड़ दें तो धोनी भी अन्य खिलाडि़यों की तरह सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन नहीं कर पाए।

टीम के लगातार केदार जाधव को खिलाने के फैसले की भी काफी आलोचना हुई जो जूझते नजर आए और अब यह देखना होगा कि उनकी जगह एन जगदीशन या रितुराज गायकवाड़ को उतारा जाएगा या नहीं।

मुंबई इंडियंस का बेहतरीन प्रदर्शन

सीएसके शानदार फॉर्म में चल रही मुंबई इंडियंस के खिलाफ मैदान में उतरेगी जो लगातार पांच मैचों में जीत के बाद शानदार लय में थी लेकिन किंग्स इलेवन पंजाब ने उसकी इस लय को तोड़ दिया और रविवार की रात दो सुपर ओवर में जीत हासिल की। चार बार की आइपीएल चैंपियन शानदार फॉर्म में हैं और गेंदबाजी आक्रमण में विविधता की मौजूदगी से वह सीएसके के बल्लेबाजों के लिए बड़ी चुनौती बन सकते हैं जिनका आत्मविश्वास वैसे ही गिरा हुआ है।

 

 

Leave A Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: