ड्रैगन की है परमाणु हथियारों को दोगुना करने की योजना

अमेरिकी रक्षा विभाग की एक रिपोर्ट में कही गई ये बात

0

चीन (China) किस कदर विश्व शक्ति बनने के सपने को पूरा करने के लिए हाथ-पांव मार रहा है ये बात किसी से छिपी नहीं है। लगातार अपनी सैन्य शक्ति को बढ़ाने और परमाणु हथियारों के भंडार को दोगुना करने की कोशिश जारी है। इसी बीच अमेरिका (America) ने भी इस बात की पुष्टी की है कि चीन अपनी सेना में बैलिस्टिक मिसाइलों (Ballistic Missile) की बड़ी खेप शामिल करने वाला है। जिसकी मारक क्षमता अमेरिका तक हो। अमेरिक के रक्षा विभाग ने बीते मंगलवार को एक रिपोर्ट जारी की, जिसमें ये बात कही गई।

पेंटागन की ओर से जो रिपोर्ट जारी की गई है, उसमें इस बात का दावा भी किया गया है कि परमाणु हथियारों की बढ़ोतरी के बावजूद चीन परमाणु शक्ति के मामले में अमेरिका से कम ही है। अमेरिकी रक्षा विभाग ने ये भी बताया कि अमेरिका के पास अभी 3,800 मिसाइलें युद्ध करने की स्थिति में हैं, और अन्य को रिजर्व में रखा गया है।

हालांकि, चीन के पास इस वक्त परमाणु वायु सेना नहीं है, लेकिन रक्षा विभाग की रिपोर्ट के मुताबिक हवा से हवा में ही मार करने वाले परमाणु बैलेस्टिक मिसाइल चीन विकसित करके इस कमी को पूरा कर सकता है। रिपोर्ट की माने तो चीन लगातार अपनी सैन्य शक्ति को बढ़ा रहा है। जिससे आने वाले समय में वो अमेरिका जैसे शक्तिसंपन्न देशों का मुकाबला कर सके।

वहीं अमेरिका की ट्रंप सरकार चीन से रणनीतिक परमाणु हथियारों को सीमित करने के लिए एक त्रिपक्षीय समझौते पर वार्ता करने की योजना बना रही है। त्रिपक्षीय समझौते में अमेरिका ने रूस को भी शामिल होने के लिए कहा है, लेकिन ने इस समझौते से साफ इनकार कर दिया है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: