120 एकड़ में बनेगा भव्य राम मंदिर

100 करोड़ से अधिक होंगे खर्च

0

AYODHYA में श्रीराम लला का मंदिर (Sri Ram Temple) अब 67 एकड़ में नहीं बल्कि 120 एकड़ में बनाये जाने की योजना है। भव्य राम मंदिर दो मंजिल की बजाय अब तीन मंजिल का होगा। मंदिर की उंचाई 161 फिट किये जाने की वजह से एक मंजिल और बढ़ाया गया है।

राम मंदिर समेत देश के कई प्रसिद्ध तीर्थों का नक्शा तैयार करने वाले वास्तुकार चंद्रकांत सोमपुरा (Chandra Kant Sonpura) ने मीडिया को ये जानकारी दी।

सोमपुरा के मुताबिक मंदिर के शिखर की ऊंचाई बढ़ाने के फैसले और गुंबदों की संख्या तीन से पांच किए जाने के बाद एक मंजिल और बढ़ाना जरुरी हो गया था।  पहले के नक्शे के हिसाब से मंदिर की ऊंचाई 128 फिट तय की गई थी। संतों और ट्रस्ट की इच्छा के अनुसार यह बदलाव किया गया है।

मंदिर परिसर का बढ़ेगा क्षेत्रफल

पहले के नक्शे की बात करें तो नागर शैली के इस मंदिर परिसर क्षेत्र का दायरा करीब 67 एकड़ में रखा गया था, जिसे नए डिजाइन और ऊंचाई की जरुरत के हिसाब से 100 से 120 एकड़ में विस्तारित किया जा सकता है।

 मंदिर निर्माण में आने आने वाला खर्च
मंदिर के वर्तमान डिजाइन ( Present design) के मुताबिक करीब 100 करोड़ रुपये की लागत आ सकती है। लेकिन डिजाइन में कोई बदलाव किया जाता है तो मंदिर निर्माण का खर्च बढ़ भी सकता है। मंदिर को निर्धारित समय सीमा में पूरा करने के लिए ज्यादा संसाधन और बजट की जरुरत होगी।  गर्भगृह में नहीं होगा कोई बदलाव

वास्तुकार चंद्रकांत सोमपुरा के मुताबिक गर्भगृह, आरती स्थल, सीता रसोई, रंगमंडपम की संरचना में कोई बदलाव नहीं किया गया है। पहले बनाए गए नक्शे के हिसाब से ही इसकी संरचना रहेगी। सोमपुरा ने कहा कि नए राम मंदिर की ऊंचाई बढ़ाई गई है, लेकिन यह भारत में सबसे ऊंचे शिखर वाला मंदिर नहीं होगा। दक्षिण भारत में कई मंदिरों के शिखर की ऊंचाई 200 से 250 फिट से ज्यादा है।

80 हजार घन फुट पत्थर तराशा गया
अक्षरधाम जैसे मंदिरों का डिजाइन तैयार कर चुके सोमपुरा ने बताया कि अब तक 80 हजार घन फुट पत्थर तराशा जा चुका है और करीब इतने ही पत्थर की और जरूरत पड़ सकती है। यह पत्थर बंसी पहाड़पुर से लाया जाएगा। तराशी का कार्य भी भी बरसात के बाद तेज होगा और इसमें हजारों कारीगर लगाए जा सकते हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: