राहुल गांधी की आवाज दबाने की कोशिश में है सरकार: कांग्रेस

0

नयी दिल्ली , कांग्रेस ने कहा है कि पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी चीन की घुसपैठ, किसान, बेरोजगारी, महंगाई जैसे मुद्दों को उठाकर सरकार को बराबर कटघरे में खड़ा कर रहे हैं, इसलिए प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) का इस्तेमाल कर उनकी आवाज दबाने का प्रयास किया जा रहा है।

कांग्रेस संचार विभाग के प्रमुख रणदीप सिंह सुरजेवाला ने ईडी द्वारा श्री गांधी को दूसरे दिन पूछताछ के लिए बुलाए जाने से पहले आज यहां पार्टी मुख्यालय में पत्रकारों से कहा कि श्री गांधी ने हर मुद्दे पर सरकार को कटघरे में खड़ा कर दिया है और उसके पास इसका कोई जवाब नहीं है, इसलिए सरकारी एजेंसियों के माध्यम से श्री गांधी को परेशान कर रही है।

उन्होंने कहा कि दो साल से श्री गांधी चीनी घुसपैठ, किसानों, युवा बेरोजगारों, गरीबों, महंगाई और आदिवासियों के मुद्दे उठा रहे हैं, जिससे तंग आकर सरकार उन्हें परेशान कर रही है। सरकार नहीं चाहती है कि कांग्रेस जनता के मुद्दे उठाए, इसलिए वह कांग्रेश की आवाज दबाने की कोशिश कर रही है, लेकिन उसकी यह कोशिश सफल नहीं होगी।

कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा कि सरकार जनता के मुद्दे उठाने वाली आवाज को दबाने का षड्यंत्र कर रही । यदि जनता के सवाल उठाना अपराध है, तो कांग्रेस यह अपराध बार बार करेगी और मोदी सरकार के धन्ना सेठों के हित साधने के काम में रोड़ा बनती रहेगी।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस की आवाज दबाने के लिए सरकार ने सोमवार को पूरे दिन षड्यंत्र किया। अपने 40, 50 मंत्रियों को इसी काम में लगाया जो चहेते टेलीविजन चैनलों के माध्यम से कांग्रेस विरोधी खबरें दिनभर प्रसारित करते रहे। विपक्ष में रहकर जो भी नेता सरकार की नीतियों के विरुद्ध आवाज उठाते हैं, उनके खिलाफ एजेंसियों का इस्तेमाल किया जाता है, लेकिन जैसे ही ये नेता सरकार के इशारे पर काम करते हैं या भाजपा में शामिल हो जाते हैं उनके खिलाफ सारी कार्रवाई खत्म हो जाती है और उनके सारे अपराध मुक्त हो जाते हैं।

प्रवक्ता ने कहा कि कांग्रेस ने नेशनल हेराल्ड के परेशान पत्रकारों के वेतन का भुगतान किया है और पेंडिंग बिजली के बिलों का भुगतान किया है। यदि यह अपराध है तो इस तरह के अपराध पूरे देश में हो रहे हैं और सरकार को सभी को कटघरे में खड़ा करना चाहिए।

Leave A Reply

Your email address will not be published.