महामारी के बाद से वैश्विक औसत जीवन में गिरावट- रिपोर्ट

0

दुनिया की आबादी पर संयुक्त राष्ट्र की ताजा रिपोर्ट में कहा गया है कि 2019 की तुलना में 2021 में दुनिया में औसत जीवन प्रत्याशा में लगभग दो साल की गिरावट आई है। कुछ अन्य देशों जैसे बोलीविया और रूस ने औसत आयु में चार साल से अधिक की गिरावट देखने को मिली है।

कोविड का पहला मामला 2019 के अंत में चीन में दर्ज किया गया था, जबकि बाकी दुनिया ने 2020 में इस बीमारी ने फैलना शुरू किया था। तब से अनुमानित 6.7 मिलियन लोग वायरस से मर चुके हैं।


रिपोर्ट में कहा गया है कि कोविड के बाद से विश्व स्तर पर जीवन प्रत्याशा में गिरावट आई है। बोलीविया, बोत्सवाना, लेबनान, मैक्सिको, ओमान और रूस में 2019 और 2021 के बीच चार साल से अधिक की जीवन प्रत्याशा में कमी देखी गई। संयुक्त राष्ट्र का अनुमान है कि 2050 तक वैश्विक जीवन प्रत्याशा फिर से बढ़कर 77.2 वर्ष हो जाएगी।


सोमवार को जारी एक रिपोर्ट में संयुक्त राष्ट्र ने पाया कि कोविड की वैश्विक महामारी ने दुनिया की आबादी को बदल कर रख दिया है। रिपोर्ट के मुताबिक 2021 में वैश्विक जीवन प्रत्याशा गिरकर 71 साल हो गई। 2019 में यह अवधि 72.8 साल थी। रिपोर्ट के मुताबिक इसका मुख्य कारण महामारी है।

रिपोर्ट में कहा गया है कि जीवन प्रत्याशा पर वैश्विक महामारी का प्रभाव एक क्षेत्र से दूसरे क्षेत्र और देश से दूसरे देश में भिन्न होता है।

रिपोर्ट में कहा गया है कि बोलीविया, बोत्सवाना, लेबनान, मैक्सिको, ओमान और रूस में 2019 और 2021 के बीच चार साल से अधिक की जीवन प्रत्याशा में कमी देखी गई। संयुक्त राष्ट्र का अनुमान है कि 2050 तक वैश्विक जीवन प्रत्याशा फिर से बढ़कर 77.2 वर्ष हो जाएगी।

Leave A Reply

Your email address will not be published.