गांधीधाम: विज्ञापन को लेकर तनिष्क स्टोर पर तोड़फोड़, शो रूम मैनेजर से लिखवाया माफीनामा

तनिष्क के विज्ञापन विवाद पर मंगलवार को कंपनी ने उसे वापस ले लिया। वहीं बुधवार को गांधीधाम के तनिष्क स्टोर पर तोड़फोड़ का मामला सामने आया है।

0

गुजरात, गांधीधाम: टाटा ग्रुप के फेमस ब्रांड तनिष्क अपने नए विज्ञापन को लेकर विवादों में चल रहा है। फेस्टिव सीजन के लिए तनिष्क ने अपने नए विज्ञापन को हिंदू-मुस्लिम पर फिल्माया था। जैसे ही ये ऐड सामने आया यूजर्स ने सोशल मीडिया पर ट्रोल करना शुरु कर दिया। और #boycottanishq ट्रेड करने लगा। इसके बाद कंपनी ने अपने हिंदू-मुस्लिम वाले इस विज्ञापन को वापस ले लिया। तो वहीं गुजरात के गांधीधाम में तनिष्क शो रूम पर हमले की की खबर सामने आई है।

 पुलिस का हमले से इंकार

कुछ असमाजिक तत्वों ने गुजरात के गांधीधाम के तनिष्क स्टोर पर तोड़फोड़ मचाई साथ ही स्टोर के मैनेजर से बदसलूकी की और जबरन माफीनामा लिखवाया। माफीनामा में लिखवाया कि ‘ हम सेकुलर ऐड दिखा कर हिंदुओं की भावनाओं को आहत करने के कारण कच्छ जिले के लोगों से माफी मांगते हैं ‘। वहीं पुलिस ने किसी प्रकार के हमले किये जाने से इंकार किया है।

कुछ ऐसा बनाया गया था विज्ञापन

इस विवादास्पद विज्ञापन में एक गर्भवती महिला की गोदभराई की रस्म दिखाई गई है। महिला के साथ उसकी सास भी है। जिसने सलवार सूट पहन रखा है और सिर पर दुपट्टा डाला हुआ है। सास अपनी बहू को सेलिब्रेशन की जगह पर लेकर जाती है। बहू यह देखकर हैरान हो जाती है कि समारोह हिंदू रीति-रिवाजों के अनुसार आयोजित किया गया है। इसपर वह सास से पूछती है कि ये रस्म तो आपके घर में नहीं होती है न? इस पर सास बोलती है “बिटिया को खुश करने के लिए रस्म तो हर घर में है ना?”

स्टाफ की सलामती के लिए ऐड वापस लिया

कंपनी ने अपने कर्मचारियों, पार्टनर्स और स्टोर की सलामती के लिए मंगलवार को ही विज्ञापन वापस ले लिया था। इस विज्ञापन को दिखाने का मकसद लोगों की भावनाओं को ठेस पहुंचाना कतई नहीं था। लोगों ने विज्ञापन को गलत तरीके से समझ लिया, जिसके बाद टाटा ग्रुप के तनिष्क ने ये ऐड वापस ले लिया।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: