First floating restaurant: यमुना की लहरों पर होगा प्रदेश के पहले ‘फ्लोटिंग रेस्तरां’ का निर्माण

0

First floating restaurant: उत्तर प्रदेश सरकार प्रदेश का पहला फ्लोटिंग रेस्तरां प्रयागराज में बनने जा रहा है। इसके लिए प्रयागराज विकास प्राधिकरण ने बोट क्लब में सुविधाओं को अपग्रेड करने की तैयारी शुरू कर दी है। इसके अलावा क्लब में वाटर स्पोर्ट्स की सुविधा के साथ एक योग सेंटर भी होगा। संगम नगरी के लोग और यहां आने वाले सैलानी जल्द ही यमुना किनारे फ्लोटिंग रेस्तरां में स्वादिष्ट व्यंजनों का लुत्फ उठा सकेंगे।

ये भी पढ़ें- Today CM Yogi in Haridwar: आज हरिद्वार में सीएम योगी ने किया भागीरथी पर्यटन आवास का लोकार्पण
First floating restaurant
यमुना की लहरों पर होगा प्रदेश के पहले ‘फ्लोटिंग रेस्तरां’ का निर्माण

First floating restaurant: पीपीपी मॉडल पर बोट क्लब को किया जाएगा संचालित

रेस्तरां में कई तरह के व्यंजन परोसने के साथ बच्चों व बड़ों के मनोरंजन की अन्य सुविधाएं भी होंगी। योजना को जमीन पर उतारने के लिए बोट क्लब को पब्लिक-प्राइवेट पार्टनरशिप (पीपीपी) मॉडल पर संचालित किया जाएगा। चयनित एजेंसी को ‘फ्लोटिंग रेस्तरां’ में सभी सुविधाएं उपलब्ध कराने की जिम्मेदारी सौंपी जाएगी और वह इसे भी चलाएगी।

First floating restaurant: फ्लोटिंग रेस्तरा उत्तर भारत की पहली अनूठी योजना

पीडीए ने योजना को अमली जामा पहनाने के लिए निविदा जारी कर दी है। इच्छुक एजेंसियों को एक प्रेजेंटेशन देना होगा कि वह बोट क्लब में क्या बदलाव करना चाहते हैं और इसे कैसे विकसित करेंगे। प्रयागराज में आकार ले रही फ्लोटिंग रेस्तरां की योजना उत्तर भारत में किसी नदी के किनारे बनने वाली अपनी तरह की पहली और सबसे अनूठी योजना मानी जा रही है।

First floating restaurant: बोट क्लब मिलेगी योग केंद्र की भी सुविधा

पीडीए के उपाध्यक्ष अरविंद कुमार चौहान ने कहा कि जिस एजेंसी की योजना सबसे अच्छी होगी, उसे बोट क्लब चलाने और सुविधाओं को बढ़ाने की जिम्मेदारी दी जाएगी, ताकि लोग अच्छी सुविधाओं का आनंद ले सकें। साथ ही लोगों को स्वादिष्ट व्यंजन भी उपलब्ध हो। एजेंसी को फ्लोटिंग रेस्तरां के साथ ही बोट क्लब में योग केंद्र भी स्थापित करना होगा। इसको लेकर पीडीए और बोट क्लब के अधिकारियों ने हाल ही में एक बैठक की है।

First floating restaurant: बोट क्लब शहर के प्रमुख आकर्षणों में से एक होगा

पीडीए के उपाध्यक्ष ने कहा कि इन बदलावों के बाद पर्यटन के लिहाज से बोट क्लब शहर के प्रमुख आकर्षणों में से एक होगा। उन्होंने कहा कि बोट क्लब का कायाकल्प कुंभ-2025 से पहले किया जाएगा। बोट क्लब वाटर स्पोर्ट्स के लिहाज से भी आकर्षक का केंद्र बनेगा।

खबरों के साथ बने रहने के लिए प्रताप किरण को फेसबुक पर फॉलों करने के लिए यहां क्लिक करें।

 

Leave A Reply

Your email address will not be published.