DU Undergraduate courses: दिल्ली विश्वविद्यालय में अंडर ग्रेजुएशन पाठ्यक्रमों में दाखिले की आखिरी तारीख 15 नवंबर

0

DU Undergraduate courses: दिल्ली विश्वविद्यालय 2021-2022 सत्र के लिए एक नया बैच शुरू करने के लिए पूरी तरह तैयार है। स्पेशल कटऑफ (special cut off) के बाद अब दिल्ली विश्वविद्यालय (Delhi University) में स्नातक पाठ्यक्रमों (Undergraduate courses) में प्रवेश प्रक्रिया समाप्त होने जा रही है। 15 नवंबर को छात्रों के पास दाखिले के लिए आवेदन का आखिरी मौका बाकी है।

DU Undergraduate courses

DU Undergraduate courses: स्पेशल कटऑफ के आधार पर दाखिले की आखिरी तारीख 15 नवंबर

आवेदन का अवसर केवल कुछ ही छात्रों के पास है, वह भी केवल चुनिंदा सीटों पर। वहीं अभी भी बड़ी संख्या में छात्र दिल्ली विश्वविद्यालय में प्रवेश पाने के लिए उत्सुक हैं। दिल्ली विश्वविद्यालय द्वारा जारी की गई स्पेशल कटऑफ के आधार पर 15 नवंबर तक छात्र दाखिले के लिए आवेदन कर सकते हैं।

ये भी पढ़ें- CBSE Board Exam: सीबीएसई ने पहली बार बोर्ड परीक्षाओं के पैटर्न में किया बदलाव, जानिए क्या है परीक्षा का नया पैटर्न

दिल्ली विश्वविद्यालय के रजिस्ट्रार विकास गुप्ता के मुताबिक, 15 नवंबर तक दाखिले का यह आखिरी चांस केवल उन छात्रों के लिए है जो डीयू द्वारा पहले जारी की जा चुकी कटऑफ में दाखिले के लिए योग्य थे, लेकिन किन्हीं कारणों से दाखिला नहीं ले सके। हालांकि पहले से दाखिला ले चुके छात्र अपना कोर्स या कॉलेज नहीं बदल सकेंगे।

DU Undergraduate courses: फर्स्ट ईयर की ऑनलाइन कक्षाएं 22 नंवबर से होंगी शुरु

दिल्ली विश्वविद्यालय में नए बैच की दाखिला प्रक्रिया पूरी होने के बाद प्रथम वर्ष की ऑनलाइन कक्षाएं 22 नवंबर से शुरू की जाएंगी। दिल्ली विश्वविद्यालय द्वारा जारी किए गए कैलेंडर के मुताबिक, इन छात्रों की पहली परीक्षा वर्ष 2022 में आयोजित की जाएंगी। यह परीक्षाएं 21 मार्च से 4 अप्रैल के मध्य ली जाएंगी।

इनके अलावा दिल्ली विश्वविद्यालय ने सभी स्नातक और स्नातकोत्तर पाठ्यक्रमों की तीसरे, 5वें और 7वें सेमेस्टर की परीक्षाएं 30 नवंबर से ऑनलाइन आयोजित करने की घोषणा की।

DU Undergraduate courses: साइंस और रिसर्च के अलावा अधिकांश छात्रों की कक्षाएं ऑनलाइन ही चलेंगी

नया सत्र शुरू होने के बावजूद यह छात्र कॉलेज नहीं जा सकेंगे। दिल्ली विश्वविद्यालय में इन छात्रों के लिए फिलहाल ऑफलाइन कक्षाएं शुरू नहीं की जाएंगी। ऐसे में छात्रों के समक्ष केवल ऑनलाइन कक्षाओं का ही विकल्प है।

दिल्ली विश्वविद्यालय में नियंत्रित तरीके से छात्रों को कैंपस आने की इजाजत दी जा रही है। दिल्ली विश्वविद्यालय में भी फिलहाल विज्ञान एवं शोध से जुड़े छात्रों को ऑफलाइन कक्षाओं की इजाजत मिली है। वहीं अन्य विषयों के अधिकांश छात्रों के लिए दिल्ली विश्वविद्यालय में भी अभी केवल ऑनलाइन कक्षाओं का ही विकल्प मौजूद है।

खबरों के साथ बने रहने के लिए प्रताप किरण को फेसबुक पर फॉलों करने के लिए यहां क्लिक करें।

Leave A Reply

Your email address will not be published.