Delhi: राजधानी दिल्ली दुनिया के प्रदूषित शहरों में से दसवें स्थान पर

राजधानी दिल्ली में सबसे ज्यादा प्रदूषण रहा है और दिल्ली में पीएम 2.5 का वार्षिक औसत 84.1 माइक्रोग्राम प्रति क्यूबिक मीटर पाया गया है।

0

Delhi: मंगलवार को वर्ल्ड एयर क्वालिटी रिपोर्ट (Air Quality Report) 2020 जारी हो गई है। रिपोर्ट (report)के अनुसार विश्व में तीन देश- बांग्लादेश, पाकिस्तान और भारत सबसे ज्यादा प्रदूषित देश पाए गए हैं। राजधानी दिल्ली दुनिया के प्रदूषित शहरों में से दसवें स्थान पर है। वर्ल्ड (World)में दिल्ली के अलावा दो और राजधानियां प्रदूषित पाई गई है। वह दो राजधानियां है ढाका और उलानबटोर।

pollution
राजधानी दिल्ली दुनिया के प्रदूषित शहरों में से दसवें स्थान पर

आंकड़े:-

आंकड़े के मुताबिक देखे तो राजधानी दिल्ली में सबसे ज्यादा प्रदूषण रहा है और दिल्ली में पीएम 2.5 का वार्षिक औसत 84.1 माइक्रोग्राम प्रति क्यूबिक मीटर पाया गया है। वहीं ढाका में वार्षिक औसत 77.1 माइक्रोग्राम प्रति क्यूबिक मीटर दर्ज किया गया है। और उलानबटोर में 46.6 माइक्रोग्राम प्रति क्यूबिक मीटर पाया गया है। रिपोर्ट के मुताबिक दिल्ली के अलावा मुंबई और बेंगलुरु सार्वजनिक प्रदूषित महानगर है।

ये भी पढ़ें- बिहार में पैक्स अध्यक्ष की गोली मारकर हत्या, मुखिया सहित 2 गिरफ्तार

पिछले साल लॉकडाउन के कारण प्रदूषण में गिरावट:-

पिछले साल कोरोना महामारी फैलने के कारण लॉकडाउन (Lockdown) लगाया गया था जिसके कारण प्रदूषण कम हुआ है। रिपोर्ट के मुताबिक दिल्ली की वायु गुणवत्ता 2019 और 2020 में 15 फ़ीसदी सुधार आया है। ग्रीनपीस इंडिया के क्लाइमेट कैंपेनर अविनाश चंचल ने कहा कि लॉकडाउन (Lockdown) से भले ही दिल्ली समेत कई शहरों में प्रदूषण कम हुआ है लेकिन जलवायु का अर्थव्यवस्था, स्वास्थ्य पर पड़ने वाला प्रभाव भयावह है।

प्रदूषण के स्तोत्र :-

राजधानी दिल्ली में पीएम 2.5 का वार्षिक औसत 84.1 माइक्रोग्राम प्रति क्यूबिक मीटर तक पहुंच गया है। भारत में तेजी से बढ़ते प्रदूषण के बहुत से स्तोत्र है। प्रदूषण के मुख्य कारक बिजली उत्पादन, उद्योग, निर्माण, कचरा जलाना, भोजन पकाने के लिए इंधन जलाना, यातायात और पराली को माना गया है।

खबरों के साथ बने रहने के लिए प्रताप किरण को facebook Page पर फॉलों करने के लिए यहां क्लिक करें।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: