crime in pratapgarh: दहेज में गाड़ी न मिलने पर विवाहिता की हत्या करने का आरोप, भाई ने लगाई न्याय की गुहार

0

crime in pratapgarh: प्रतापगढ़ के अंतू थाना (Pratapgarh Police)के मकईपुर गांव में दहेज न मिलने पर हत्या का मामला सामने आया है। जहां 26 जनवरी, 2022 को रेखा के ससुराल वालों ने उसके भाई के पास फोन करके बताया कि रेखा ने फांसी लगा कर आत्महत्या कर ली है। रेखा के माईके वालों का आरोप है कि उसके ससुराल वालों ने दहेज के लालच में उसकी हत्या कर दी। न्याय की आस में मृतका का भाई और परिवारजन अब अन्तू थाने के चक्कर लगा रहे है।

ये भी पढ़ें-pratapgarh news: फिंगर प्रिंट लेने के बाद भी कोटेदार नहीं देता राशन, ग्रामीणों ने लगाया आरोप

crime in pratapgarh
रेखा (फाइल फोटो)

crime in pratapgarh- दहेज में बाइक न मिलने पर महिला की हत्या

रेखा के माता पिता बचपन में गुजर गए थे जिसके बाद उसका पालन पोषण मानधाता थाने के  पवारपुर गांव में ननिहाल वालों ने किया। ननिहाल वालों ने 8 जनवरी, 2017 को रेखा की शादी मकईपुर निवासी राजू के साथ बड़ी धूम धाम से की, शादी के वक्त राजू के पिता स्व. राम मनोहर ने मोटरसाइकिल की मांग की जिस पर रेखा के मामा ने किसी तरह उनको मना कर बाद में मोटरसाइकिल देने का वादा किया।

विवाह के बाद आए दिन ससुराल वाले रेखा को मोटरसाइकिल के लिए प्रताणित किया करते थे। 25 जनवरी, 2022 की शाम को रेखा ने अपने मामा अशोक कुमार भगत से फोन करके बताया कि जेठ काशीराम और परिवार के लोग मिलकर मुझे मारते पीटते हैं मैंने अभी तक आप लोगों को कुछ नहीं बताया था रेखा के मामा ने फोन पर रेखा के पति राजू को समझाया और कहा कि मैं नागपुर से घर आ रहा हूं तो बैठकर बात करेंगे जिसके बाद राजू फोन पर ही गैली गलौज करने लगा।

crime in pratapgarh- भाई  ने ससुराल वालों पर लगाया हत्या का आरोप

crime in pratapgarh
रेखा का बेटा

crime in pratapgarh- रेखा का एक 4 साल का लड़का है

26 जनवरी की सुबह 7 बजे रेखा के भाई पवन कुमार के पास फोन आया कि उसकी बहन ने फांसी लगा कर आत्महत्या कर ली है। जिसके बाद घर में कोहराम मच गया। घर वालों के पंहुचने से पहले ससुरालवालों ने रेखा का अंतिमसंस्कार कर दिया था। भाई पवन कुमार और परिजनों का कहना है कि रेखा की हत्या की राजू और उसके परिवार वालों ने मिलकर किया है। रेखा के परिवार वाले अब न्याय के लिए थाने के चक्कर काट रहे हैं।

खबरों के साथ बने रहने के लिए प्रताप किरण को फेसबुक पर फॉलों करने के लिए यहां क्लिक करें।

Leave A Reply

Your email address will not be published.