Covid-19:गरीबों की मदद के लिए चंदा देने से मना करने पर शिक्षक की पिटाई कर दी

0

Covid-19:गरीबों की मदद के लिए चंदा देने से मना करने पर शिक्षक की पिटाई कर दी..

Jaunpur: जौनपुर के महराजगंज बीआरसी ने शुक्रवार को अध्यापकों की बैठक बुलाई थी, आयोजित बैठक में कोरोना के चलते हुए लॉकडाउन मार झेल रहे गरीबों की मदद के लिए चंदा देने से मना करने पर एक शिक्षक की पिटाई कर दी गई। पीड़ित अध्यापक ने थाने में तहरीर दी है। जिसमें उसने बैठक में मौजूद खंड शिक्षा अधिकारी के इशारे पर पिटाई का आरोप  https://www.pmindia.gov.in/en/ लगाया है।

Click Here To Download Arogya Setu Aap

महराजगंज थाना क्षेत्र के पूर्व माध्यमिक विद्यालय महराजगंज के प्रधानाध्यापक रामसबद ने पुलिस को दी गई तहरीर में कहा है कि शुक्रवार को खंड शिक्षा अधिकारी बसंत शुक्ला ने ब्लाक संसाधन केंद्र पर शिक्षकों की बैठक बुलाई थी। बैठक में शिक्षकों से कोरोना संक्रमण के चलते हुए लॉकडाउन में गरीब और बेसहारा लोगों की मदद के लिए चंदे की मांग की गई।

http://<iframe width=”727″ height=”409″ src=”https://www.youtube.com/embed/mjAUxzD6mlk” frameborder=”0″ allow=”accelerometer; autoplay; encrypted-media; gyroscope; picture-in-picture” allowfullscreen></iframe>

इसपर ध्यापक रामसबद ने चंदा देने से इसलिए इनकार किया कि वह विद्यालय में पढ़ने वाले गरीब बच्चों के अभिभावकों की मदद करना चाहता हूं। इसी बात पर बीईओ भड़क गए। उन्होंने कहा कि गरीबों की मदद करना तुम्हारा काम नहीं है। मदद की राशि मुझे ऊपर पहुंचानी है।

अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें।

बीईओ के इशारे पर एक शिक्षक और उसके साथियों ने प्रभारी प्रधानाध्यापक की पिटाई कर दी। बैठक में मौजूद अन्य शिक्षकों ने बीच बचाव करके रामसबद और अन्य अध्यापकों को हटाया । इस संबंध में बीएसए प्रवीण कुमार तिवारी का कहना है कि घटना की सूचना मिली है। प्रारंभिक जांच में पता चला है कि बीईओ उस बैठक में मौजूद थे, इसलिए उन्हें फंसाया जा रहा है। घटना की जांच कर के कार्रवाई की जाएगी।

Leave A Reply

Your email address will not be published.