विकास यात्रा के 1 साल पूरे होने पर विकास पुरुष के हाथ जम्मू कश्मीर की बागडोर

पूर्वांचल के विकास पुरुष मनोज सिन्हा बने जम्मू कश्मीर के उपराज्यपाल।

0
गाजीपुर के पूर्व सांसद मनोज सिन्हा जम्मू कश्मीर के उप राज्यपाल नियुक्त हुए हैं। बुधवार की शाम जीसी मुर्मू के इस्तीफे के बाद यह घोषणा की गई।आपको बता दें कि धारा 370 हट आते वक्त जम्मू कश्मीर और लद्दाख को केंद्र शासित प्रदेश घोषित कर दिया गया था। इसके बाद जीसी मुर्मू को वहां का उप राज्यपाल बनाया गया था।

बीते बुधवार को जम्मू कश्मीर से धारा 370 हटाए जाने के 1 वर्ष पूरे हुए हैं। इस दौरान जम्मू कश्मीर के विकास कार्यों में तेजी से बढ़त देखी गई है। इसके अलावा पूर्व केंद्रीय मंत्री मनोज सिन्हा के नेतृत्व में गाजीपुर और रेल मंत्रालय में विकास का पहिया तेजी से दौड़ता नजर आ रहा था। इसके कारण वह विकास पुरुष के नाम से जाने जाते हैं।वह रेल राज्यमंत्री और संचार राज्यमंत्री के रूप में दायित्वों का निर्वहन कर चुके हैं।आपको बता दें कि 16वीं लोकसभा के सदस्य के रूप में उन्होंने गाजीपुर का प्रतिनिधित्व किया है।

1 जुलाई 1959 को गाजीपुर में जन्मे सिन्हा IIT वाराणसी से M.tech किए हैं। जहां उन्हें गोल्ड मेडल भी प्राप्त है।विद्यार्थी जीवन से देश काशी हिंदू विश्वविद्यालय की छात्र राजनीति में सक्रिय रहे हैं। विश्व हिंदू परिषद से भी उनका जुड़ाव हमेशा से रहा है। 1989-96 के बीच वे राष्ट्रीय परिषद के सदस्य थे।वर्ष 1996 में 11 वीं लोकसभा के लिए निर्वाचित हुए।1999 में उन्हें फिर 13 वीं लोकसभा के लिए पुनः निर्वाचित हुए।1999 से 2000 के बीच वह योजना तथा वास्तुशिल्प विद्यापीठ की महापरिषद तथा शासकीय आश्वासन समिति तथा ऊर्जा समिति के सदस्य भी रहे हैं।

मोदी सरकार की कैबिनेट में अच्छा प्रदर्शन के कारण वह पूर्वांचल के सर्वाधिक लोकप्रिय नेता के रूप में जाने जाने लगे।वहीं 2017 में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री की कतार में वह आगे रहे हैं।

इस खबर के साथ ही पूरे जनपद में एक खुशी की लहर दौड़ पड़ी है। सिन्हा के समर्थक उत्साह से फूले नहीं समा रहे हैं। वही गाजीपुर भाजपा कार्यालय पर मिठाईयां बांटकर एक दूसरे को बधाई भी दे रहे हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: