चंद्रमा की कक्षा में चंद्रयान-2 को एक साल हुए पूरे

22 जुलाई 2019 को चंद्रयान-2 को लॉन्च किया गया था

0

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (Indian Space Research Organisation) यानी ISRO के प्रयासों से आज भारत अंतरिक्ष (Space) में भी कई सफल अभियान को पूरा कर चुका है। जहां भारत (India) की पहुंच आज मंगल ग्रह तक जा पहुंचा है तो वहीं चंद्रमा के रहस्यों से पर्दा उठाने की कोशिश भी जारी है। बता दें बीते 20 अगस्त को भारत के दूसरे अभियान चंद्रयान-2 (chandrayaan-2) ने चंद्रमा की कक्षा में चारों ओर परिक्रमा करते हुए एक साल पूरा कर लिया है। ये जानकारी ISRO ने दी।

ISRO ने ये भी कहा कि एक साल तक चंद्रमा की कक्षा का चक्कर लागाने के बाद भी चंद्रयान-2 सभी उपकरण अच्छे से कम कर रहे हैं। इसके साथ ही अभी चंद्रयान-2 में इतना ईंधन बचा है, कि वो अगले 7 सालों तक कार्य कर सकता है। बता दें बीते साल 22 जुलाई 2019 को चंद्रयान-2 को लॉन्च किया गया था।

इस बात की जानकारी साझा करते हुए ISRO की ओर से कहा गया कि, ‘हालांकि, चंद्रयान-2 मिशन के लैंडर विक्रम के चंद्रमा पर उतरने के आखिरी पलों में लैंडर का ग्राउंड स्टेशन से संपर्क टूट गया था, और 8 वैज्ञानिक उपकरण लेकर गए अंतरिक्षयान ने सफलतापूर्वक चंद्रमा की कक्षा में प्रवेश किया था। अंतरिक्षयान ने चंद्रमा की कक्षा में करीब 4,400 परिक्रमा पूरी की हैं और इसके सभी उपकरण अच्छी तरह काम कर रहे हैं।’

बता दें चंद्रयान-2 के ऑर्बिटर में हाई क्वालिटी वाले कैमरे लगे हैं, जिससे  चांद्रमा के बाहरी वातावरण और उसकी सतह के बारे में जानकारी हासिल करने में मदद मिलेगी।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: