Kotak 811 account opening online apply zero balance

बसपा अब दलित विरोधी सपा को सिखाएगी करारा सबक- मायावती

बहुजन समाज पार्टी की मुखिया मायावती ने कहा कि अगर जरूरत पड़ी तो बहुजन समाज पाटी उत्तर प्रदेश में होने वाले एमएलसी चुनावों में समाजवादी पार्टी (SP) को हराने के लिए भाजपा या किसी अन्य पार्टी का समर्थन करेगी।

0

लखनऊ: 2019 के लोकसभा चुनाव में बीएसपी ने सपा के साथ यूपी में बड़ा गठबंधन किया था, लेकिन अब वही बीएसपी, सपा के साथ दो दो हाथ करने को तैयार है।

बसपा मुखिया मायावती ने सपा को दो टूक जवाब उस वक्त दिया जब राज्यसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी ने निर्दलीय प्रकाश बजाज को समर्थन दिया। सपा द्वारा निर्दलीय प्रकाश बजाज को समर्थन देने पर मायावती सपा से खफा हैं। मायावती ने कहा कि बसपा अब दलित विरोधी सपा को करारा सबक सिखाएगी।

बहुजन समाज पार्टी की मुखिया मायावती ने कहा कि अगर जरूरत पड़ी तो बहुजन समाज पाटी उत्तर प्रदेश में होने वाले एमएलसी चुनावों में समाजवादी पार्टी (SP) को हराने के लिए भाजपा या किसी अन्य पार्टी का समर्थन करेगी। उन्होंने कहा कि हमने सपा के दलित विरोधी कार्यों के खिलाफ अपना कड़ा रुख दिखाने के लिए यह फैसला लिया है।

भाजपा की बी टीम कहे जाने पर मायावती ने दी सफाई

मायावती ने बसपा को भाजपा की बी टीम कहे जाने पर सफाई देते हुए कहा कि हमने भाजपा के साथ किसी भी प्रकार के गठबंधन की बात नहीं कही है। हमने भाजपा से कोई गठबंधन नहीं किया। उन्होंने कहा कि मेरे बयान को गलत तरीके से पेश किया जा रहा है। बसपा की सिर्फ भाजपा का साथ की बात गलत है।

हमने कहा था कि समाजवादी पार्टी को हराने वाले किसी भी दल का साथ देंगे। सपा को हराने के लिए भाजपा या किसी भी अन्य दल को समर्थन देंगे। उन्होंने कहा कि बसपा की विचारधारा सर्वधर्म हिताय सर्वधर्म सुखाय की है। इसी वजह से हमने बीते लोकसभा के साथ ही विधानसभा उप चुनाव में भी सभी वर्ग के लोगों के साथ मुस्लिमों को टिकट दिया है।

राज्यसभा की दस सीट की लड़ाई में बसपा ने इस खेल को बिगाड़ने की कोशिश में लगी समाजवादी पार्टी को चेतवनी दे दी है कि आगे इसका खमियाजा भुगतना पड़ेगा। बीएसपी, सपा को करारा जवाब देने के लिए एड़ी चोटी एक लगा देगी।

 

 

Leave A Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: