COVID-19 : अफवाहों से रहें सावधान, जानिए किसे बरतनी होगी ज्यादा सावधानी

कोरोना संकट के दिनों में दूसरों की बातों पर भरोसा न कर अपनी सुरक्षा खुद करें।

0

Lucknow : COVID-19 (कोविड-19) कोरोना वायरस को लेकर कयास और तमाम तरह के अफवाहें लोगों को मानसिक रुप से परेशान कर रही है। इस तरह की मानसिक उलझन के चलते जो पहले से किसी न किसी बीमारी से ग्रसित मरीज है, उनकी परेशानी बढ़ रही है। करोना वायरस से जुड़ी ऐसी अफवाहें आग में घी डालने का काम कर रही है। डॉक्टरों ने मरीजों को सलाह दी है कि  कोरोना संकट के दिनों में दूसरों की बातों पर भरोसा न कर अपनी सुरक्षा खुद करें।

कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजो को कोविड अस्पताल में भर्ती कराया गया है। कोविड अस्पताल में भर्ती मरीजों ने डॉक्टरों से बातचीत में बताया है कि नियम का पालन न करने से अब उन्हें पछतावा हो रहा है। आस-पड़ोस के लोगों को देख और उनकी बातों में आकर मास्क लगाना छोड़ दिया था। लोग कहते थे कि कोरोना सिर्फ अफवाह है और उस अफवाह को फैलाने में राजनीति भी है। इन सब बातों के  चलते हमनें लापरवाही बरती और कोरोना की चपेट में आ गए।

यह भी पढ़ेः-Panchayat Chunav:भाजपा ने घोषित किए पंचायत चुनाव के पहले चरण के 10 जिलों के उम्मीदवारों के नाम

कोविड अस्पताल के डॉक्टर सुजीत वर्मा का कहना है कि अधिकतर मरीज बीपी, सुगर और हार्ट की बीमारी से पहले से ही ग्रसित हैं। इन्हीं बीमारियों के मरीजों पर कोरोना का अटैक ज्यादा होता है। क्योंकि ऐसे मरीजों का इम्युनिटी सिस्टम काफी कमजोर होता है।

कोविड अस्पताल में 125 मरीज भर्ती है और इनमें ज्यादातर 60 साल से अधिक उम्र के हैं। कुछ मरीज 45 उम्र के भी है। जहां अधेड़ उम्र के नए कोरोना संक्रमित जल्दी स्वस्थ्य हो रहे हैं। तो वही पुरानी बीमारी से ग्रसित मरीजों को सही होने में समय लग रहा है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.