गोवा IIT के कुछ हिस्से में बनेगा मंदिर

गांव वालों की नाराजगी शांत करने के लिए लिया फैसला

0

जुलाई में गोवा सरकार ने आईआईटी के लिए गुलेली गांव में दस लाख वर्ग मीटर जमीन देखी थी और उसके आवंटन की घोषणा भी हो चुकी थी। पर अभी तक केंद्र सरकार के फैसले का आना बाकी है क्योंकि अभी दक्षिण गोवा के फार्मगुड़ी में स्थित गोवा इंजीनियरिंग कॉलेज में ही IIT भी चल रहा है।

क्या है वजह

दरअसल जो जमीन IIT के लिए आवंटित हुई है उस जमीन के बारे में गांव वालों का कहना है कि उस जगह पर धार्मिक अनुष्ठान होते रहे हैं और उस जगह से उनका भावनात्मक लगाव रहा है। जिस कारण कैबिनेट बैठक में यह निर्णय लिया गया कि दस लाख वर्ग मीटर जमीन में से 45000 वर्ग मीटर जमीन मंदिर के लिए अलग कर दी जाएगी। यह काम गांव वालों की नाराजगी को देखते हुए किया गया।

गोआ के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत ने बताया कि गांव को उस जगह पर IIT बनने से एतराज था क्योंकि उस जगह वो धार्मिक कार्यक्रम करते आये हैं, जिसके चलते उन्हें शांत कराने के लिए ये निर्णय लिया गया जिससे भविष्य में कोई विवाद ना हो। गौरतलब है कि गुलेली तीसरा गांव है जिसकीजमीन सरकार ने IIT के चिन्हित की है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: