पूर्वोत्तर में बाढ़ और कोरोना की दोहरी मार

सेफ्टी किट पहन कर NDRF टीम कर रही है बचाव कार्य

0

एक तरफ देश में कोरोना महामारी तेजी से फैल रही है वहीं पूर्वोत्तर के कई राज्यों को मौसम की भी मार झेलनी पड़ रही है। असम में इन दिनों बाढ़ लोगों के लिए आफत का सबब बना हुआ है। राज्य के अधिकांश हिस्से जलमग्न हैं। ब्रह्मपुत्र नदी का जलस्तर खतरे के निशान से ऊपर जा चुका है। हालात को देखते हुए राज्य में NDRF की टीम को तैनात किया गया है।

एक ओर लोग जहां बाढ़ से परेशान हैं वहीं कोरोना के चलते राहत और बचाव कार्य भी प्रभावित हुआ है। हालांकि इन सभी समस्याओं से पार पाने के लिए टीम ने मास्टर प्लान तैयार कर रखा है और इसी के तहत कार्य कर रही है।

बचाव दल को विशेष हिदायत दी गई है जिसके चलते फेस मास्क, सैनिटाइजर और विशेष फेस शील्ड का इस्तेमाल एनडीआरएफ के जवान बचाव कार्य के दौरान कर रहे हैं। एनडीआरएफ की तमाम टीम लगातार राहत और बचाव कार्य में लगी हुई हैं। असम के कई जिलों में टीम कोऑर्डिनेशन कर रहे सुरेंद्र गहलोत ने बताया कि गंभीर परिस्थिति को देखते हुए एनडीआरएफ ने भी नई सुरक्षा प्रणाली अपनाई है, जिससे 24 घंटे राहत का काम जारी भी रहे, साथ ही संक्रमण के खतरे से जवानों को भी बचाया जा सके।

इस बार राहत और बचाव कार्य पर ड्यूटी के दौरान एनडीआरएफ के जवान विशेष ध्यान रख रहे हैं। बचाव दल हर समय सेफ्टी का ध्यान रखते हैं जिससे इस खतरनाक बीमारी को फैलने से रोका जा सके।

बता दें कि असम में मॉनसून के आते ही कई जिले जलमग्न हो जाते हैं। लेकिन इस बार कोरोना महामारी के चलते राहत और बचाव कार्य भी प्रभावित हुआ है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: