Ahmad Hasan Passes Away: सपा नेता अहमद हसन अंसारी का 88 वर्ष की आयु में निधन

0

Ahmad Hasan Passes Away: समाजवादी पार्टी के दिग्गज नेता,पूर्व मंत्री और विधान परिषद् में नेता प्रतिपक्ष अहमद हसन अंसारी का शनिवार को सुबह 11 बजे निधन हो गया। अहमद हसन पिछले कुछ समय से काफी बीमार चल रहे थे। अहमद हसन डॉक्टर राम मनोहर लोहिया आयुर्वेदिक संस्थान में भर्ती थे जहाँ उन्हें क्रिटिकल केयर यूनिट में रखा गया था। इलाज के दौरान उन्होंने अपनी आखरी सांस ली। अहमद हसन ने 88 वर्ष की आयु में दम तोडा।

Ahmad Hasan Passes Away

Ahmad Hasan Passes Away: कई दिग्गज नेताओं ने व्यक्त किया शोक

अहमद हसन के निधन पर यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ समेत अन्य बड़े नेताओं ने शोक व्यक्त किया। योगी आदित्यनाथ ने ट्वीट करते हुए लिखा- “उत्तर प्रदेश विधान परिषद में नेता प्रतिपक्ष श्री अहमद हसन जी का निधन अत्यंत दुःखद है। परमपिता परमेश्वर से प्रार्थना है कि दिवंगत आत्मा को शांति तथा शोकाकुल परिजनों को यह असीम दुःख सहने की शक्ति प्रदान करें। ॐ शांति!”

ये भी पढ़ें- Kisaan Drone: पीएम मोदी ने 100 किसान ड्रोन को दिखाई हरी झंडी

उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने भी ट्वीट द्वारा अहमद हसन को श्रद्धांजलि देते हुआ लिखा- “समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता व विधान परिषद में नेता विरोधी दल श्री अहमद हसन साहब का निधन हम सबके लिए बहुत दुख का विषय है। भावभीनी श्रद्धांजलि!”

Ahmad Hasan Passes Away: कई अहम पदों पर संभाली जिम्मेदारियां

अहमद हसन का जन्म उत्तर प्रदेश के अम्बेडकर नगर में हुआ था, उनके पिता एक मशहूर व्यापारी और धार्मिक विद्वान् थे। अहमद हसन ने अपनी कानूनी पढ़ाई इलाहाबाद विश्वविद्यालय से की उसके बाद उन्होंने यूपीएससी (UPSC) की प्रतियोगी परीक्षा पास की और भारतीय पुलिस सेवा (Indian Police Services) के अधिकारी बने। उन्हें 1960 में लखनऊ के डीएसपी का पद सौंपा गया।

अहमद हसन को मुलायम सिंह यादव का करीबी मना जाता था, और मुलायम की सरकार में उन्हें कैबिनेट मंत्री का दर्ज़ा प्राप्त हुआ। अखिलेश यादव की सरकार में भी अहमद हसन को कैबिनेट मंत्री बनाया गया। वे वर्तमान में समाजवादी पार्टी की तरफ से विधान परिषद सदस्य और विधान परिषद में नेता प्रतिपक्ष थे। अहमद हसन अंसारी सपा सरकार में स्वास्थ्य व शिक्षा मंत्री भी रह चुके हैं। हसन आईपीएस की नौकरी छोड़ सपा में शामिल हुए थे।

Ahmad Hasan Passes Away: अहमद हसन की उपलब्धियां

अहमद हसन 1994 में उत्तर प्रदेश अल्पसंख्यक आयोग के चेयरमैन बने, 1997 में उन्हें विधान परिषद का नेता प्रतिपक्ष बनाया गया 2003 में उन्हें स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग का मंत्री बनाया गया, 2012 में अहमद को फिर से स्वास्थ्य मंत्री का दर्ज़ा प्राप्त हुआ और 2015 में बेसिक शिक्षा विभाग का मंत्री बनाया गया, 2017 से अब तक वे सदन में नेता प्रतिपक्ष रहे।

खबरों के साथ बने रहने के लिए प्रताप किरण को फेसबुक पर फॉलों करने के लिए यहां क्लिक करें।

Leave A Reply

Your email address will not be published.