देश में कोरोना वैक्सीन के 2 फेज ट्रायल आए: स्वास्थ्य मंत्रालय

स्वास्थ्य मंत्रालय ने प्रेस कॉन्फ्रेंस आयोजित कर दी जानकारी

0
NEW DELHI: Corona virus News updates- देश में कोरोना वायरस चिंताजनक हालात को देखते हुए केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय ने प्रेस कांफ्रेंस आयोजित की। प्रेस कॉन्फ्रेंस में नीति आयोग के सदस्‍य डॉ. वीके पॉल ने कहा कि ऑक्सफॉर्ड यूनिवर्सिटी और बुहान के वैक्सीन के शुरुआती नतीजे प्रोत्साहित करने वाले हैं।
वहीं देश में 2 कोरोना वैक्सीन (Corona Vaccine) Phase-1, Phase-2 ट्रायल (Trail)  में आ चुके हैं।  उन्‍होंने कहा कि इसकी चर्चा पहले ही शुरू हो गई है कि वैक्‍सीन उन सभी को कैसे उपलब्ध कराए जाएंगे जिन्हें इसकी जरुरत है। भारतीय वैक्सीन की पहुंच भारत के लोगों और अंतरराष्ट्रीय समुदाय को जल्द से जल्द होनी चाहिए, इसके लिए भारत सरकार कोई कसर नहीं छोड़ेगी।

इसके लिए हर संभव सुविधा उपलब्‍घ कराई जाएगी, ताकि वैज्ञानिक बेहतर तरीके से टेस्‍ट कर सकें और हम एक किफायती विकल्प पर पहुंचे। उन्‍होंने कहा कि हमें कोरोना वायरस के पीक पर आने का इंतजार नहीं करना चाहिए। अपने स्तर पर एहतियात बरतनी चाहिए, जिससे कि मामले ना बढ़ें।

स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री के OSD राजेश भूषण ने बताया कि डब्‍लूएचओ (WHO) की गाइडलाइन कहती है कि 10 लाख की आबादी पर 140 टेस्ट प्रतिदन होने चाहिए। भारत में अभी 80 टेस्ट प्रतिदिन हर 10 लाख की आबादी पर हो रहे हैं। भारत में फिलहाल 4,02,529 ऐक्टिव केस हैं और 7,24,577 लोग रिकवर कर चुके हैं।

भारत में केस फिटिलिटी रेट 2.43 फीसदी हैं, इसमें काफी बड़ा महत्वपूर्ण रोल डॉक्टरों और पैरामेडिकल स्टाफ का है। एम्स की भी एक महत्वपूर्ण भूमिका है। कई राज्यों में केस फिटलिटी रेट राष्ट्रीय औसत से कम है। स्वास्थ्य मंत्रालय का सहयोग राज्यो को मिल रहा है। समय-समय पर स्वास्थ्य मंत्रालय की टीमें राज्यों का दौरा भी करती हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: